रिलायंस जिओ ने एसबीआई के साथ मिलकर की पेमेंट्स बैंक की शुरुआत

    Reliance jio ने 3 अप्रैल से पेमेंट्स बैंक के रूप में काम करना शुरू कर दिया है।यह जानकारी रिज़र्व बैंक ने अपनी एक आधिकारिक प्रेस रिलीज़ के दौरान दी । रिसेर्वे बैंक के अनुसार अगस्त 2015 में रिलायंस ने 11 अन्य आवेदकों के साथ आवेदन किया था जिससे रिज़र्व बैंक ने सैद्धांतिक मंजूरी दी थी। इससे पहले भारती एयरटेल ने नवंबर 2016 में ही payments bank के रूप में काम करना शुरू कर दिया था । 10 करोड़ उपभोक्ताओं के साथ जिओ देश का सबसे बड़ा नेटवर्क बन चूका है जिओ पेमेंट बैंक एक जॉइंट वेंचर के तौर पर काम करेगा जिसमे एसबीआई 30 % का हिस्सेदार होगा और रिलायंस जिओ 70 % का मालिकाना हक़ रखेगा । पेटीऍम के संस्थापक विजय शेखर शर्मा मई 2017 में पेमेंट्स की स्थापना की थी लेकिन उपभोक्ताओं के मामले में रिलायंस कही आगे है मुफ्त डाटा और वौइस् कॉल के लुभावने ऑफर देकर जिओ ने पहले ही अपने प्रतिद्वंदियों के दांत खट्टे कर दिए अब देखना है की ये मुक़ाबला कितना दिलचस्प होता है।

    आप जिओ पेमेंट बैंक में अपना खाता खुलवा कर इसकी सेवाए ले सकते है।
    उपभोक्ता अपने खाते में एक लाख तक की राशि जमा करा सकता है ।
    जिओ पेमेंट बैंक अपने खाताधारकों के लिए डेबिट कार्ड की सुविधा भी मुहैया कराएगा । हालाँकि कंपनी द्वारा क्रेडिट की कोई भी घोषणा नहीं की है ।

    कारोबारियों को भी मिलेगा फायदा

    यह पेमेंट बैंक अपने कस्टमर को म्यूच्यूअल फण्ड और जीवन बीमा जैसी योजनाओ से भी जोड़ेगा ।
    छोटे व्यापारियों के लिए ये अच्छा सौदा साबित हो सकता है
    जिस व्यापारी के पास काम लोग काम करते है इसके द्वारा सीधे सेल्लरी उनके खता में पहुंच सकती है ।
    पेमेंट्स बैंक के द्वारा बैंकिंग प्रणाली आसान हो जाएगी बैंको के चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे ।

    ऐसे खोल सकते हैं अकाउंट

    सबसे पहले जियो पेमेंट बैंक का ऐप इंस्टाल करें और अपने जियो नंबर के साथ साइनइन करें.
    निश्चित जगह पर अपना आधार नंबर दर्ज करें और अपने आधार कार्ड को लिंक करें.
    अगर डेबिट/एटीएम कार्ड की जरूरत हो तो एड्रेस अपडेट करें.
    पेमेंट बैंक अकाउंट के लिए कस्टमर एग्जीक्यूटिव पहचान के फिजिकल वेरफिकेशन और अंगूठे के निशान यानी ईकेवाईसी के लिए आपके घर पर आएंगे
    आप जियो पेमेंट बैंक के ऑथराइज सेंटर पर जाकर भी वेरिफिकेशन करा सकते हैं.

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here